Friday, 14 July 2017

Tu Paas Bhi Hai, LOVE SHAYARI

Palkon Pe Larajte Ashqon Mein,
Tasveer Jhalakti Hai Teri,
Deedar Ki Pyaasi Aankhon Ko,
Ab Pyaas Nahi Aur Pyaas Bhi Hai.

Mayoos Toh Hun Tere Vaade Se,

Kuchh Aas Nahi Kuchh Aas Bhi,
Main Apne Khayalon Ke Sadke,
Tu Paas Nahi Aur Paas Bhi Hai.


पलकों पे लरजते अश्कों में,
तस्वीर झलकती है तेरी,
दीदार की प्यासी आँखों को,
अब प्यास नहीं और प्यास भी है।

मायूस तो हूँ तेरे वादे से,
कुछ आस नहीं कुछ आस भी है,
मैं अपने ख्यालों के सदके,
तू पास नहीं और पास भी है।

No comments:
Write comments